अजनबी ज़िन्दगी..

15965075_1030121317117101_6563876895552174971_n

आखिर क्या हैं यह ज़िन्दगी..

हकीकत क्या हैं इसकी,

क्या यह ऐश और आराम हैं..

या ये  दौलत हैं..

दौलत हैं तोह कीमत क्या हैं.

 

क्या यह प्यार हैं,

प्यार हैं तोह इकरार क्यों नहीं..

मोहब्बत हैं तोह क्या इसकी इज्ज़त हैं..

नफरत हैं तोह क्या इसकी ज़रुरत हैं..

ख़ुशी हैं तोह आंसू क्यों हैं..

 

क्या ज़िन्दगी एक रास्ता हैं,

रास्ता हैं तोह मंजिल कहा हैं..

क्या ज़िन्दगी दर्द हैं,

दर्द हैं तोह गुजरना कठिन हैं..

 

क्या यह एहसास हैं,

एहसास हैं तोह क्या यह ख़ास हैं,,

में बताऊ ज़िन्दगी क्या हैं ?

 

मेरे लिए तोह कुछ नही..

बस एक साँस  हैं,

ज़िन्दगी..

One comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s